पुकार

कोई काफिला  तेरे कुचे से  जब गुजरता होगा   |
तेरी बन्दगी में फिर दो बोल तो वो कहता होगा  |

तेरी रहमत से ही तो सारा जहान आज रौशन है |
तेरी मर्जी  बगैर तो पत्ता भी कहाँ हिलता होगा  |

तेरे सजदों ने ही दिलों में  सुकून दिला रखा है |
वर्ना इस दुनियां में  इसके सिवा क्या रखा है |

तेरा नाम  ले - लेकर बजाते तो हैं सब ताली |
पर तेरे नाम को बाँट  कर दे रहें हैं सब गाली |

ये तेरी रहमत का फिर  कैसा  खेल निराला है |
देख तू भी रहा है फिर कुछ क्यु न कर  रहा है |

ये जलजला न जाने कब तक आग बरसायेगा |
आके तू रोक ले नहीं तो कुछ गलत हो जायेगा |      

19 टिप्‍पणियां:

: केवल राम : ने कहा…

तेरी रहमत से ही तो सारा जहान आज रौशन है |
तेरी मर्जी के बगैर तो पत्ता भी कहाँ हिलता है |

सही कहा है आपने ईश्वर की मर्जी के बगैर कुछ भी नहीं होता ....!

anju choudhary..(anu) ने कहा…

ये तेरी रहमत का फिर कैसा खेल निराला है |
देख तू भी रहा है फिर कुछ क्यु न कर पा रहा है |

उसकी रहमतो का कुछ पता नहीं...कब.. कैसे ...किस पर हो जाये

संजय कुमार चौरसिया ने कहा…

minakshiji
bahut badiya, bahut shaandaar rachna

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

खूबसूरत भावाभिव्यक्ति

Richa P Madhwani ने कहा…

http://shayaridays.blogspot.com

Richa P Madhwani ने कहा…

http://shayaridays.blogspot.com

PK Sharma ने कहा…

kya keh diya hai minakshi G

वीना ने कहा…

ये जलजला न जाने कब तक आग बरसायेगा |
आके तू रोक ले नहीं तो सब भस्म हो जायेगा |

कुछ नहीं किया तो वाकई सब भस्म हो जाएगा...

upendra shukla ने कहा…

सचमुच दिल को छूने वाली कृति है !
आप लोग मेरे ब्लॉग पर भी आये आने के लिए यहाँ क्लिक करे!"samrat bundelkhand"

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

सबने अपना अपना अधिकार जमा रखा है ईश्वर पर।

ana ने कहा…

अति सुन्दर। भावपुर्ण अभिव्यक्ति

Rahul Singh ने कहा…

खुदाई खुदा की.

Dr Varsha Singh ने कहा…

तेरी रहमत से ही तो सारा जहान आज रौशन है |
तेरी मर्जी के बगैर तो पत्ता भी कहाँ हिलता है |

तेरे सजदों ने ही दिलों में सुकून दिला रखा है |
वर्ना इस दुनियां में इसके सिवा क्या रखा है |

गहन अनुभूतियों की सुन्दर अभिव्यक्ति ... हार्दिक बधाई

Hadi Javed ने कहा…

तेरी रहमत से ही तो सारा जहान आज रौशन है |
तेरी मर्जी के बगैर तो पत्ता भी कहाँ हिलता है |
खुबसूरत अल्फाज़ में संजोई गयी एक बेहतरीन अनुभूति और खुबसूरत अहसासात को बेहद सलीके से पेश करने के लिए बधाई

मनोज कुमार ने कहा…

बेहतरीन!!

sushma ने कहा…

bhut khubsurat gazal...

Dilbag Virk ने कहा…

shaandaar

Minakshi Pant ने कहा…

mere sabhi doston ka bahut - bahut shkriya dost.

Jyoti Mishra ने कहा…

तेरे सजदों ने ही दिलों में सुकून दिला रखा है |
वर्ना इस दुनियां में इसके सिवा क्या रखा है |

Beautiful !!