प्यारी सी दुआ

आज का ही तो वो दिन था |
जब इन मजबूत हाथों से 
थामा था मैने तुम्हें |
तब से आज तक पल - पल 
बढ़ते देख रही हूँ मैं तुम्हें |
तुम हर बात से बेखबर भले ही हो ,
पर मैं तो हर वक्त तुम्हारे साथ 
साये की तरह रहती  हूँ |
तुम्हारे अच्छे काम मैं तुम्हारे 
साथ झूमती भी हूँ  |
तुम्हारे बहक जाने पर तुम्हें 
राह भी दिखाती हूँ |
तुमने कब बचपन पीछे छोड़ 
जवानी में कदम रखा 
ये सब कहाँ जान पाई मैं |
क्युकी मेरी आँखों ने तुम्हें  हर पल 
वही छोटा सा बच्चा समझा |
तुम्हारा वो हँसना - हँसाना 
पल - पल मैं रूठ जाना |
सब अपने साथ ही लेके तो 
चलती हूँ मैं |
अब तुम हर बात को समझती हो |
पर मेरे सामने तो आज भी तुम 
वही प्यारी सी बच्ची हो |
तुम भी इस बात को आज
खूब समझती हो |
तभी तो तुम  भी बच्चों की तरह 
मुझसे वैसे  ही लिपटती हो |
कितना प्यारा सा रिश्ता है 
ये मेरा और तुम्हारा |
कभी प्यार , कभी तकरार 
पर फिर भी है सबसे खास |
मेरी दुआ है की बना रहे ये 
प्यारा सा  एहसास हर दम 
हमारे साथ |
और तुम आगे बढती रहो 
इसी दुआ के साथ  |

10 टिप्‍पणियां:

संजय कुमार चौरसिया ने कहा…

bahut hi sundar panktiyan
in sundar panktiyon ke liye bahut bahut dhnyvaad

hamare blog par bhi aapka swagat hai

क्यों करते हैं जिस्मफरोशी का धंधा ? क्या मजबूरी यही कहती है ? या फिर .........>>> संजय कुमार

निर्मला कपिला ने कहा…

पर फिर भी है सबसे खास |
मेरी दुआ है की बना रहे ये
प्यारा सा एहसास हर दम
हमारे साथ | सुन्दर सन्देश दिया है। बधाई सुन्दर रचना के लिये।

Rahul Singh ने कहा…

वाह क्‍या बात है, लेकिन कितना लिखती हैं आप, हम तो इतनी टिप्‍पणी भी नहीं लिख पाते.

mukes agrawal ने कहा…

मेरी दुआ है की बना रहे ये
प्यारा सा एहसास हर दम

K.R.Baraskar ने कहा…

आज का ही तो वो दिन था |
जब इन मजबूत हाथों से
थामा था मैने तुम्हें |

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

यही तो सम्बन्धों की शक्ति है।

Mukesh Kumar Sinha ने कहा…

maa-beti ka pyar chhalak raha hai..:)
aaj kya aapke beti ka birthday to nahi hai...:D
aisa kuchh lag raha hai pahli pankti se..:)

jo bhi ho...bahut shubhkamnayen!!

Minakshi Pant ने कहा…

aap sabhi ka bahut bahut shukriya

Patali-The-Village ने कहा…

माँ बाप के लिए बच्चे तो बच्चे ही रहते हैं चाहे वे कितने ही बड़े क्यों न हो जाएँ|

OM KASHYAP ने कहा…

सरल और स्पष्ट रचना
शुभकामनायें !!