दोस्ती


एक चिगारी अंगारे से कम नहीं होती !
सादगी भी सिंगार से कम नहीं होती !! 
अपनी अपनी सोच का फर्क है वर्ना !
दोस्ती भी मोहबत से कम नहीं होती !!

3 टिप्‍पणियां:

ankur garg ने कहा…

Shandar hai ye, kya aap khud likhti hai ?

sada ने कहा…

मेरे ब्‍लाग पर आपके प्रथम आगमन का स्‍वागत है ...


बहुत ही सुन्‍दर शब्‍दों का संगम है ...।

Minakshi Pant ने कहा…

हाँ दोस्त लिखती तो मै हु पर होंसला तो आप सब देते हो !
शुक्रिया दोस्तों !